Apr 24, 2009

राजस्थान के लोक देवता श्री गोगा जी चौहान


राजस्थान की लोक गाथाओं में असंख्य देवी देवताओं की कथा सुनने में आती है | इन कथाओं में एक कथा श्री जाहर वीर गोगा जी चौहान की भी है | मै इस कथा के बारे में लिखने से पहले पाठको को एक बात बताता चलू की यह कथा इतिहास के नजरिये से अगर आप देखते है तो इसमें बहुत से विवाद और पेच है | और जन मानस की भावना के दृष्टीकोण से देखने पर यह आपको एक सुन्दर कथा लगेगी |
वर्तमानकाल में जिसे ददरेवा कहा जाता है यह जिला चुरू (राज.) में आता है | इसका पुराना ऐतिहासिक महत्व भी था क्यों की यह चौहान शासको की राजधानी थी | ददरेवा के राजा जीव राज जी चौहान की पत्नी ने भगवान की भक्ती की जिसके फलस्वरुप वहा गुरु गोरखा नाथ जी महाराज पधारे और उन्होंने बछल देवी को संतानोपत्ति का आशीर्वाद दिया | कुछ समय उपरांत उनके घर एक सुन्दर राजकुमार का जन्म हुआ | जिसका नाम भी गुरु गोरखनाथ जी के नाम के पहले अक्षर से ही रखा गया | यानी गुरु का गु और गोरख का गो यानी की गुगो जिसे बाद में गोगा जी कहा जाने लगा | गोगा जी ने गूरू गोरख नाथ जी से तंत्र की शिक्षा भी प्राप्त की थी |
यहाँ राजस्थान में गोगा जी को सर्पो के देवता के रूप में पूजा जाता है | कुछ कथाकार इनको पाबूजी महाराज के समकालीन मानते है तो कुछ इतिहास कार गोगाजी व पाबूजी के समयाकाल में दो सो से दाई सो वर्षो का अंतराल मानते है | कथाओं के मुताबिक पाबूजी के बड़े भाई बुढाजी की पुत्री केलम इनकी पत्नी थी | इनकी शादी का भी एक रोचक वर्तांत है जो मै अगले भाग में बताऊंगा |
नोट - इस पोस्ट में लिए गए चित्र हमारे नही है गूगल से लिए गए है | कथा लोगो के मुख से सुनी गयी है | इस पोस्ट के किसी भी अंश पर किसी को आपत्ति हो तो हम से समपर्क करे हम तुंरत हटा देंगे |

20 comments:

ताऊ रामपुरिया said...

बहुत धन्यवाद जी गोगादेवजी की कथा पढवाने के लिये.

रामराम.

संजय बेंगाणी said...

बहुत सुन्दर. गोगाजी के बारे में बहुत लम्बे काल से जानने की इच्छा था. धन्यवाद.

बचपन में गोगा-मेडी जाया करता था. आज भी घर में गोगाजी के लिए साल में एक बार नारियल चढ़ाया जाता है, मगर उनके बारे में जानकारी नहीं के बराबर....

Ratan Singh Shekhawat said...

गोगा जी के बारे में जानकारी देने के लिए आभार ! बचपन में गांव में गोगा जी की साल में एक बार पूजा होते हुए देखा करते थे उस दिन कुम्हार गोगा जी की मिट्टी की बनी प्रतिमाए घर देकर जाते थे उसी प्रतिमा की पूजा होती थी लेकिन हमें तो उस दिन बनने वाले गुलगुलों को खाने से मतलब रहता था ! गोगा जी के बारे में सुना तो खूब है लेकिन इतने दिनों में आज पहली बार इतनी जानकारी मिल पाई है |
एक पुस्तक में मिली जानकारी के अनुसार गोगा जी सन् १२९६ में फिरोजशाह से युद्ध करते हुए देवलोक हुए थे |
राजस्थान के लोक देवताओं में गोगा जी अग्रणी स्थान है और राजस्थान में प्रसिद्ध पांचो पीरो में से एक है |

PN Subramanian said...

गोगाजी के बारे में इतना ही मालूम है कि वे वहां के एक लोक देवता स्वरुप हैं. आपका आभार.

Kiran Rajpurohit Nitila said...

Naresh sa
khamma ghani
bahut acchi post.Ramdev ji,Pabu ji,Goga ji,Mamo ji aadi Raj ke pramukh lok devta hai jinhe janmans ne sadiyo se pooja hai.
Kiran

Science Bloggers Association said...

Goga jim ke baare men pahli baar jana. shukriya.

-Zakir Ali ‘Rajnish’
{ Secretary-TSALIIM & SBAI }

shan said...

दूसरे भाग का कब तक इंतज़ार करायेगे

vikram singh said...

very good for this .
aaj ke time me itihas ke bare mei new generetion ko kuch bhi malum nahi hai .
it is your good step for knolage . vikram singh chouhan, jabar singh chouhan .

vikram singh said...

its a good .

Suresh said...

i read story of Jaharvir Goga Maharaj & i m very happy thanx
regards,
Bhagwati, Satish

SHAMBHOO DAYAL said...

meri jaankari mein badhotari hui
dhanyavad
Shambhoo Dayal Sharma

SHAMBHOO DAYAL said...

Meri jankari mein badhotari hui
Dhanyavad
Shambhoo Dayal Sharma

Anonymous said...

Great web ѕite уou haѵe heге.
. It's difficult to find high-quality writing like yours nowadays. I seriously appreciate individuals like you! Take care!!

My weblog; website design hampshire

Mahendra Meghwal said...

Really a very nice post! It’s something I have never thought about, really, but it makes a whole lot of sense. Thanks for sharing the valuable information regarding
Famous Of India

Mahendra Meghwal said...

Really a very nice post! It’s something I have never thought about, really, but it makes a whole lot of sense. Thanks for sharing the valuable information regarding Famous Of India

Anonymous said...


Hello
Sir Your all post is very attractive Thanks and keep it

rajesh meel said...

come on full story............
\

Sumit Singh said...

Thank you so much for sharing this wonderful post about Goga Ji Maharaj. In my village - Bakerpur Gharhi District Bijnor (UP) 246701 , there is a one of the oldest temple of Jaharveer Goga Ji and Baba Guru Gorakhnath Ji. It's about 250 Years old and a 3-4 days fair is organized every year in the month of Shravan(July-August).

I want to know more about Baba Jaharveer Goga Ji. Can you please suggest some books and DVDs so that I could no more about the story of this GOD.

Baba Goga Ji Blesses us !

Sumit Singh

Jugal Soni said...

गोगा जी के बारे में जानकारी देने के लिए आभार ! बचपन में गांव में गोगा जी की साल में एक बार पूजा होते हुए देखा करते थे उस दिन कुम्हार गोगा जी की मिट्टी की बनी प्रतिमाए घर देकर जाते थे उसी प्रतिमा की पूजा होती थी

Jugal Soni said...

गोगा जी के बारे में जानकारी देने के लिए आभार ! बचपन में गांव में गोगा जी की साल में एक बार पूजा होते हुए देखा करते थे उस दिन कुम्हार गोगा जी की मिट्टी की बनी प्रतिमाए घर देकर जाते थे उसी प्रतिमा की पूजा होती थी