श्री राजपूत युवा परिषद सीकर की कार्यकारणी का विस्तार

 16/03/2014 आज श्री राजपूत युवा परिषद सीकर की कार्यकारणी का विस्तार किया गया 
युवा परिषद के प्रदेशाध्यक्ष उम्मेद सिंह करीरी ओर जिलाध्यक्ष लोकेश सिंह राठोड के द्वारा कार्यकरणी का विस्तार किया  गया जिससे सीकर जिले मे परिषद् की सामाजिक सक्रियता बढ़ाते हुये यह तय किया गया है की संगठन का उद्देश्य क्षत्रिय समाज में प्रसारित कर निस्वार्थ भाव सामाजिक कार्य करने हेतु सभी सदस्यों से प्रदेशाध्यक्ष के द्वारा अनुरोध किया गयाl सीकर जिला कार्यकरणी इस तरह है:-

 जिला संयोजक  एडवोकेट भवानी सिंह ढोलास  
जिला उपाध्यक्ष  चन्दन सिंह भगवानपूरा 
जिला उपाध्यक्ष  कुलदीप सिंह सबलपुरा

जिला उपाध्यक्ष         नरेन्द्र सिंह बिराणीया
जिला उपाध्यक्ष         गजेन्द्र सिंह कुकनवाली 
 शहर अध्यक्ष           आनन्द सिंह तारपुरा 
 शहर उपाध्यक्ष  जितेन्द्र सिंह बड़ी पूरा

सभी नव निर्वाचित सदस्यों को श्री राजपूत युवा परिषद की तरफ से हार्दिक बधाई ओर सुभकामना
»»  read more

एक प्रण

राजकुल पत्रिका के जून के अंक में प्रकाशित
आज कुँवर अवधेश अंगार लिखेगा दिल थामकर पढना, अगर खुन खोले रजपूती जागे तो प्रण करना । ना दहेज लेना ना मृत्युभोज में जाना ।।
क्या शाही दावते खत्म हो गई जो तू मृत्युभोज खाने चला, क्या ब्राह्मण व शुद्र कम पङ गये जो यह कृत्य राजपूत करने चला । क्या आज दानवीर भिखारी बन गया जो दहेज मांगने चला, क्या आज तेरी क्षत्रियता मर गई जो स्वाभीमान बेचने चला ।।
तुझे भी तो भगवान ने देवी समान बहन या भुआ दी होगी, तेरे पिता ने भी तो उसकी शादी कर्ज लेकर ही की होगी । तो फिर क्यों तू एक और राजपूत परिवार को कर्ज तले दबाने चला ।।
धिक्कार है तेरे राजपूत होने पर ! धिक्कार है तेरे क्षत्रिय कहलाने पर ! जो तू देवी समान राजपूत कन्या कि बजाय, उसके पिता से मिलने वाली दहेज की राशि से विवाह करने चला ।।
यदि अब भी तूने प्रण ना किया, तो धिक्कार है उस क्षत्राणी को जिसने तुझे जन्म दिया ।।
written by कुँवर अवधेश शेखावत (धमोरा)
नोट:- यहाँ ब्राह्मण व शुद्र शब्द से आशय किसी जाती विशेष से नहीं है । यहां पर्युक्त ब्राह्मण शब्द का आशय एक उस पवित्र वर्ग से है जिन्हें भोजन कराना हिन्दू धर्म में पुण्य का कार्य माना जाता है व शुद्र शब्द से आशय उन लोगों से हैं जिनकी प्राथमिक आवश्यकताएं (रोटी,कपड़ा,मकान) भी पूर्ण नहीं हो पाती है ।।


»»  read more

श्री राजपुत युवा परिषद

 श्री राजपुत युवा परिषद के द्वारा जयपुर में अपनी नई प्रदेश कार्यकारिणी का गठन किया


 बैठक में श्री राजपुत युवा परिषद के अध्यक्ष महोदय ने अपनी कार्यकारिणी का गठन कर के 

 सगठन को नया रूप दिया गया 

 ओर परिषद् की सामाजिक सक्रियता बढ़ाते हुये यह तय किया गया है की संगठन का उद्देश्य 

 क्षत्रिय समाज में प्रसारित कर निस्वार्थ 

 भाव सामाजिक कार्य करने हेतु सभी सदस्यों से अनुरोध किया गयाl
 

कार्यकारिणी इस तरह है:-  
                                           अध्यक्ष
                                  
                                 उम्मेद सिंह किरीरी

                                         उपाध्यक्ष

1. मालम सिंह सोढा 2. भँवर सिंह जुसरी  3. रवीराज सिंह मेङी 4. रिपुदमन सिंह चिराणा   


5.दिपेन्द्र सिंह पालङी      6. हरिनारायण सिंह ओसियाँ        7.प्रशांत सिंह रौत

  
    महासचिव                                                 कोषाध्यक्ष

   भँवर सिंह रेटा                                            महेन्द्र सिंह नाथुसर

    प्रचार मंत्री                                                IT सेल इंचार्ज 

 बलवीर राठौड़ डढेल                                           गजेन्द्र सिंह रायधना

    संगठन मंत्री                                               कार्यालय प्रभारी          
       
 गजेन्द्र सिंह चिराणा                                            विक्रम सिंह केरपुरा 

                               जयपुर शहर अध्यक्ष 

                            नगेन्द्र सिंह रूण्डल

   उपाध्यक्ष -                                             सचीव 

राजवीर सिंह करङ                                        कुन्दन सिंह झाङोद 


                                         



  जिलाध्यक्ष करोली                                      जिलाध्यक्ष सिरोही  


 राजकुमार सिंह जादौन                                     पर्वत सिंह देवङा



 सभी निर्वाचित सदस्यों को हार्दिक बधाइयाँ !


 







»»  read more

समाचार

इतिहास

श्री तनसिंह जी की कलम से

राजपूत नारियां

 
hitcounter www.hamarivani.com
apna blog

Followers